महाराष्ट्र लेक लड़की योजना 2024: लाभ, पात्रता, आवेदन प्रक्रिया

महाराष्ट्र लेक लड़की योजना 2024: लाभ, पात्रता, आवेदन प्रक्रिया

महाराष्ट्र लेक लड़की योजना 2024

लेक लड़की योजना राज्य में लड़कियों की शिक्षा को बढ़ावा देने के लिए बजट 2023 में माननीय मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे और उपमुख्यमंत्री श्री देवेंद्र फड़नवीस द्वारा शुरू की गई एक महत्वपूर्ण योजना है। इस योजना का मुख्य उद्देश्य राज्य में आर्थिक रूप से गरीब परिवारों की लड़कियों को उनके जन्म से लेकर उनकी शिक्षा पूरी होने तक वित्तीय सहायता प्रदान करना हैl इस योजना के तहत, राज्य में आर्थिक रूप से गरीब परिवारों की लड़कियों की शिक्षा के लिए उनके जन्म से लेकर 18 वर्ष की आयु तक 5 चरणों में कुल 98,000/- रुपये की वित्तीय सहायता प्रदान की जाती है, जो उनकी उम्र और सजा के अनुसार अलग-अलग होगी।

लेक लड़की योजना मुख्य रूप से लड़कियों के लिए शुरू की गई एक महत्वाकांक्षी योजना है, जो आर्थिक रूप से गरीब परिवारों में जन्मी लड़कियों को अपनी शिक्षा पूरी करने और खुद को सामाजिक और आर्थिक रूप से विकसित करने में मदद करेगी।

12th Jan 2024 Update:- पीएम मोदी ने लेक लाडकी योजना योजना का किया शुभारंभ, बेटियों को मिलेंगे 1 लाख रुपए

एकदिवसीय महाराष्ट्र दौरे में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बड़ी योजनाओं की सौगात दी। नवी मुंबई कार्यक्रम में प्रधानमंत्री ने महाराष्ट्र में गरीब परिवार की लड़कियों को सरकार की ओर से वित्तीय सहायता देने के लिए लेक लाडकी योजना का शुभारंभ किया। और प्रधानमंत्री ने कुछ लाभार्थियों को इस योजना के तहत मिलने वाली पहली किस्त भी दी। महाराष्ट्र सरकार द्वारा इस योजना के तहत राज्य की लड़कियों को 1 लाख 1 हजार रुपए मिलेंगे। अक्टूबर में महाराष्ट्र की एकनाथ शिंदे सरकार ने बेटियों को बड़ा तोहफा दिया था। इस योजना के संचालन हेतु सरकार द्वारा 100 करोड़ रुपए का बजट आवंटित किया गया है। इस योजना का लक्ष्य राज्य की लड़कियों को सशक्त बनाना है।

 

महाराष्ट्र लेक लड़की योजना 2024:-

महाराष्ट्र लेक लड़की योजना महाराष्ट्र के वित्त मंत्री श्री द्वारा घोषित राज्य की लड़कियों के लिए महाराष्ट्र सरकार की प्रमुख योजना है। अपने 2023-2024 बजट भाषण में देवेंद्र फड़नवीस। योजना का मुख्य उद्देश्य लड़कियों का उत्थान करना और उन्हें अपनी मौलिक शिक्षा पूरी करने में सक्षम बनाना है। इस योजना में लगभग रु. का आर्थिक लाभ प्रदान किया जायेगा। महाराष्ट्र सरकार द्वारा पात्र लड़कियों को 5 विभिन्न चरणों में 98,000/- रु. इस उद्यम के अंतर्गत राज्य की लड़कियों को निम्नलिखित आर्थिक लाभ प्रदान किये जायेंगे:-

  • रु. 5,000/- :- जन्म के समय।
  • रु. 6,000/- :- जब लड़की कक्षा 1 में प्रवेश लेती है।
  • रु. 7,000/- :- जब लड़की कक्षा 6 में प्रवेश लेती है।
  • रु. 8,000/- :- जब लड़की 11वीं कक्षा में प्रवेश लेती है।
  • रु. 75,000/- :- जब लड़की 18 वर्ष की हो जाए।

पीला राशन कार्ड या नारंगी राशन कार्ड राशन कार्ड वाले परिवार योजना का लाभ लेने के पात्र हैं। 1 अप्रैल 2023 के बाद जन्मी लड़कियां इस योजना के लिए पात्र हैं। इस योजना का उद्देश्य लड़कियों की शैक्षिक और सामाजिक स्थिति को बढ़ाना है। योजना का दूसरा नाम “महाराष्ट्र लड़कियों के लिए वित्तीय सहायता योजना” या “महाराष्ट्र लेक लड़की योजना” है। मुख्यमंत्री श्री की अध्यक्षता में कैबिनेट बैठक में एकनाथ शिंदे ने योजना को मंजूरी दे दी। महाराष्ट्र सरकार जल्द ही योजना के आधिकारिक दिशानिर्देशों और आवेदन प्रक्रिया की घोषणा करेगी और जल्द ही वेबसाइट लॉन्च की जाएगी।

 

 

महाराष्ट्र लेक लाडकी योजना के बारे में जानकारी

योजना का नाम Maharashtra Lek Ladki Yojana
घोषणा की गई महाराष्ट्र सरकार द्वारा
लाभार्थी गरीब परिवार में जन्म लेने वाली लड़कियां
उद्देश्य बालिका के जन्म से लेकर उसकी शिक्षा तक आर्थिक सहायता प्रदान करना
एक मुश्त राशि का लाभ 18 वर्ष की आयु पर 75000 रुपए
राज्य महाराष्ट्र
साल 2024
आवेदन प्रक्रिया अभी उपलब्ध नहीं
अधिकारिक वेबसाइट जल्द लॉन्च होगी

 

किस तरह मिलेगी योजना में आर्थिक सहायता

महाराष्ट्र का द्वारा लेख लाडकी योजना के माध्यम से आर्थिक रूप से कमजोर एवं पीले और नारंगी राशन कार्ड धारक परिवार में अगर लड़की का जन्म होता है तो जन्म लेने वाली बालिकाओं को 5000 रुपए की आर्थिक सहायता दी जाएगी। इसके बाद जब बच्चे स्कूल जाने लगेगी।  तो पहले कक्षा में 4000 रुपए की वित्तीय सहायता सरकार की ओर से दी जाएगी। वहीं छठी कक्षा में प्रवेश लेने पर बच्ची को 6000 रुपए की सहायता प्रदान की जाएगी। 11वीं कक्षा में प्रवेश करने पर बालिका को 8000 रुपए दिए जाएंगे। जब लड़की बालिग हो जाएगी यानी 18 वर्ष की हो जाएगी तो सरकार द्वारा उसे 75000 रुपए की एक मुश्तराशि प्रदान की जाएगी। इस राशि का उपयोग बेटी की शादी में किया जा सकेगा। राज्य में इस योजना के संचालन से लड़कियों को आत्मनिर्भर एवं सशक्त बनाया जा सकेगा। सरकार द्वारा लेक लाडकी योजना का लाभ पात्र हितग्राहियों को प्रदान करने के लिए दिशा निर्देश भी जल्द से जल्द जारी किए जाएंगे।

 

महाराष्ट्र लेक लड़की योजना 2024 का उद्देश

  • लेक लड़की योजना का मुख्य उद्देश्य राज्य में आर्थिक रूप से गरीब परिवारों की लड़कियों को उनके जन्म से लेकर उनकी शिक्षा पूरी होने तक आर्थिक रूप से सहायता करना है।
  • समाज में लड़कियों के प्रति नकारात्मक सोच को खत्म कर भ्रूण हत्या को खत्म करना।
  • राज्य में बालिकाओं का सामाजिक एवं आर्थिक विकास।
  • गरीब परिवारों को अपनी बेटी की पढ़ाई पूरी करने के लिए पैसों के लिए किसी पर निर्भर रहने की जरूरत नहीं होनी चाहिए, किसी से पैसे उधार लेने की जरूरत नहीं होनी चाहिए।
  • लड़कियों को शिक्षा के लिए प्रोत्साहित करना और शिक्षा के प्रति रुचि पैदा करना।
  • राज्य में बालिकाओं का सर्वांगीण विकास।
  • गरीब परिवारों की लड़कियां पैसे के अभाव में शिक्षा से वंचित न रहें।
  • लड़कियों को आत्मनिर्भर बनाना।
  • लड़कियों को शिक्षा के लिए आर्थिक रूप से सशक्त बनाना
  • लड़कियों के जन्म को प्रोत्साहित करके लड़कियों की जन्म दर को बढ़ाना
  • लड़कियों की शिक्षा को प्रोत्साहित करना और आश्वस्त करना तथा बढ़ावा देना।
  • बालिकाओं को सशक्त बनाना।
  • लड़कियों की मृत्यु दर को कम करना और बाल विवाह को रोकना।
  • कुपोषण को कम करना.
  • स्कूल न जाने वाली लड़कियों की दर को शून्य करने के लिए प्रोत्साहित करना।

 

Maharashtra Lek Ladki Yojana 2024 के तहत वित्तीय सहायता प्रदान की गई

अवस्था राशि
पहला बेटी के जन्म के बाद 5,000/- रुपये
दूसरा जब एक लड़की पहली कक्षा में जाती है 6,000/- रुपये
तीसरा जब एक लड़की छठी कक्षा में जाती है 7,000/- रुपये
चौथा जब एक लड़की 11वीं में जाती है 8,000/- रुपये
पांचवां जब लड़की 18 साल की हो जाये 75,000/- रुपये
कुल लाभ 1,01,000/- रुपये

महाराष्ट्र लेक लड़की योजना के लाभ एवं विशेषताएं:

1. योजना द्वारा गरीब परिवारों में जन्म लेने वाली बेटियों को आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी।

2. जन्म से लेकर शिक्षा तक बेटियों को आर्थिक सहायता उपलब्ध कराई जाएगी।

3. पीले और नारंगी राशन कार्ड धारक परिवारों में बेटी के जन्म पर 5,000 रुपये की सहायता दी जाएगी।

4. पहली कक्षा में बेटियों को 4,000 रुपये वित्तीय सहायता प्रदान की जाएगी।

5. छठी कक्षा में प्रवेश करने पर 6,000 रुपये की सहायता दी जाएगी।

6. 11वीं कक्षा में आने पर लड़कियों को 8,000 रुपये की मदद मिलेगी।

7. बेटियों को 18 वर्ष की आयु में 75,000 रुपये की एक मुश्त सहायता प्रदान की जाएगी।

8. सहायता राशि प्राप्त करने के लिए बेटी के माता-पिता का बैंक खाता होना आवश्यक है।

9. बेटियों की पढ़ाई लिखाई के लिए आर्थिक समस्या का सामना नहीं करना पड़ेगा।

10. बेटियों का जन्म सरकारी अस्पताल में होना चाहिए और योजना का लाभ उनके जन्म से ही उपलब्ध होगा।

इस योजना के माध्यम से महाराष्ट्र सरकार गरीब परिवारों के बेटियों की शिक्षा और भविष्य को सुनिश्चित करने के लिए कदम उठाएगी।

 

महाराष्ट्र लेक लड़की योजना 2024 के लिए आवश्यक पात्रता एवं शर्तें

  • आवेदक बालिका का परिवार महाराष्ट्र राज्य का मूल निवासी होना चाहिए। इस योजना का लाभ केवल महाराष्ट्र राज्य के परिवारों को ही दिया जायेगा। महाराष्ट्र राज्य के बाहर के परिवारों की लड़कियों को इस योजना का लाभ नहीं दिया जाएगा।
  • लेक लड़की योजना का लाभ केवल पीले और नारंगी राशन कार्ड वाले परिवार ही उठा सकते हैं। इस योजना का लाभ आर्थिक रूप से गरीब परिवार उठा सकते हैं।आवेदक बालिका को केंद्र या राज्य सरकार की किसी अन्य योजना के तहत शिक्षा के लिए वित्तीय सहायता प्राप्त नहीं होनी चाहिए।
  • लड़की के 18 वर्ष की आयु प्राप्त करने के बाद ही उसके बैंक खाते में 75,000/- रुपये जमा किए जाएंगे, इससे पहले उसके बैंक खाते में कोई राशि जमा नहीं की जाएगी।लेक लड़की योजना का लाभ उठाने के लिए लड़की को अपनी शिक्षा पूरी करनी होगी, इसलिए यदि लड़की किसी भी कारण से पढ़ाई छोड़ देती है, तो उसे लाभ राशि नहीं दी जाएगी।आवेदक के परिवार का कोई भी सदस्य सरकारी सेवा में कार्यरत नहीं होना चाहिए।
  • यह योजना पीले और नारंगी राशन कार्ड धारक परिवारों में 1 अप्रैल 2023 या उसके बाद जन्मी एक या दो बेटियों पर लागू रहेगी। साथ ही अगर एक लड़का और एक लड़की है तो यह लड़की पर भी लागू होगा। पहले बच्चे की तीसरी किस्त और दूसरे बच्चे की दूसरी किस्त के लिए आवेदन जमा करते समय माता/पिता को परिवार नियोजन प्रमाण पत्र जमा करना अनिवार्य होगा। यदि दूसरी डिलीवरी के दौरान जुड़वाँ बच्चे पैदा होते हैं तो इस योजना का लाभ एक लड़की या दोनों लड़कियों को मिलेगा। लेकिन उसके बाद माता/पिता को परिवार नियोजन सर्जरी करानी होगी।
  • 1 अप्रैल, 2023 से पहले बेटी/बेटा और उसके बाद पैदा हुई दूसरी बेटी या जुड़वां बेटियां (स्वतंत्र) योजना के तहत स्वीकार्य रहेंगी। लेकिन माता/पिता को परिवार नियोजन सर्जरी करानी होगी।लाभार्थी का बैंक खाता महाराष्ट्र राज्य में होना चाहिए।लाभार्थी परिवार की वार्षिक आय 1 लाख से अधिक नहीं होनी चाहिए।

 

 

आवश्यक दस्तावेज

  • माता पिता का आधार कार्ड
  • बालिका का जन्म प्रमाण पत्र
  • पीले और नारंगी रंग का राशन कार्ड
  • आय प्रमाण पत्र
  • जाति प्रमाण पत्र
  • निवास प्रमाण पत्र
  • मोबाइल नंबर
  • बैंक खाता विवरण
  • पासपोर्ट साइज फोटो

 

 

महाराष्ट्र लेक लड़की योजना का लाभ लेने की प्रक्रिया

  • संबंधित बाल विकास परियोजना अधिकारी और जिला कार्यक्रम अधिकारी, जिला परिषद अधिक संख्या में आवेदन प्राप्त होने वाले क्षेत्र का यादृच्छिक निरीक्षण करेंगे और सत्यापन के बाद लाभार्थी सूची को मंजूरी देंगे।
  • पर्यवेक्षक/बाल विकास परियोजना अधिकारी उनके द्वारा प्राप्त आवेदनों की जांच करेंगे और यदि कोई आवेदन अधूरा है या सभी प्रमाण पत्रों के साथ प्रस्तुत नहीं किया गया है तो ऐसे आवेदन प्राप्त होने के 15 दिनों के भीतर आवेदक को लिखित रूप से सूचित करेंगे। तदनुसार, आवेदक को 1 माह के भीतर दस्तावेजों की पूर्ति के साथ आवेदन प्रस्तुत करना होगा। यदि आवेदक किसी अपरिहार्य कारण से इस अवधि के भीतर आवेदन दाखिल करने में विफल रहता है, तो उसे 10 दिनों का विस्तार दिया जाएगा। इस प्रकार अधिकतम 2 माह की अवधि में उक्त आवेदन पर कार्यवाही पूर्ण कर ली जायेगी।
  • इस योजना के तहत प्राप्त आवेदनों की रिपोर्ट हर महीने जिला कार्यक्रम अधिकारी, जिला परिषद / नोडल अधिकारी द्वारा आयुक्त, एकीकृत बाल विकास सेवा योजना, नवी मुंबई, राज्य के कार्यालय में प्रस्तुत की जाएगी। हर महीने की 5 तारीख तक महाराष्ट्र की।

 

 

महाराष्ट्र लेक लड़की योजना के अंतर्गत ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया

  • सबसे पहले आवेदक को लड़की योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • होम पेज पर आपको झील लड़की योजना पर क्लिक करना होगा।
  • अब आपके सामने इस योजना का आवेदन पत्र खुल जाएगा, इसमें आपको आवेदक द्वारा पूछी गई सभी जानकारी जोड़नी होगी और आवश्यक दस्तावेज अपलोड करने होंगे।
  • इस प्रकार इस योजना के तहत आपकी ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया पूरी हो जाएगी।

तो यह सब महाराष्ट्र लेक लड़की योजना 2024 के बारे में था। यदि आप पात्र हैं तो आपको आधिकारिक वेबसाइट से इसके लिए आवेदन करना चाहिए।

 

 

निष्कर्ष:

प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने महाराष्ट्र में गरीब परिवारों की लड़कियों को वित्तीय सहायता देने के लिए लेक लड़की योजना शुरू की। सरकार ने इस योजना के संचालन के लिए 100 करोड़ रुपये का बजट निर्धारित किया है। लेक लड़की योजना एक महत्वाकांक्षी योजना है जिसका उद्देश्य गरीब घरों की लड़कियों को अपनी मौलिक शिक्षा पूरी करने और खुद को आर्थिक और सामाजिक रूप से विकसित करने में सक्षम बनाना है। यह उन्हें उनके जीवन के प्रारंभिक चरण से लेकर उनकी शिक्षा पूरी होने तक वित्तीय सहायता प्रदान करेगा ताकि वे आर्थिक रूप से स्वतंत्र और सामाजिक रूप से मजबूत बन सकें।
बाल विकास परियोजना अधिकारी और जिला कार्यक्रम अधिकारी उच्च आवेदन वाले क्षेत्रों में यादृच्छिक निरीक्षण करेंगे और सत्यापन के बाद लाभार्थी सूचियों को मंजूरी देंगे। पर्यवेक्षक आवेदनों की समीक्षा करेंगे, अपूर्ण आवेदनों को एक महीने के भीतर पुनः जमा करने के लिए 15 दिनों के भीतर सूचित करेंगे, वैध कारणों से इसे 10 दिनों तक बढ़ाया जा सकता है, अधिकतम 2 महीने के भीतर पूरा करना सुनिश्चित किया जाएगा। योजना आवेदनों पर मासिक रिपोर्ट जिला कार्यक्रम अधिकारी द्वारा प्रत्येक माह की 5 तारीख तक आयुक्त कार्यालय में प्रस्तुत की जाएगी।

 

यह योजना आर्थिक रूप से वंचित परिवारों को लड़की के जन्म पर वित्तीय सहायता प्रदान करती है, जिसके बाद विभिन्न शैक्षणिक स्तरों पर सहायता प्रदान की जाती है। वयस्कता तक पहुंचने सहित विभिन्न चरणों में अलग-अलग राशि प्रदान करके, इस योजना का उद्देश्य लड़कियों को सशक्त बनाना और आत्मनिर्भरता को बढ़ावा देना, स्वतंत्रता और कल्याण की दिशा में उनकी यात्रा को सुविधाजनक बनाना है। पात्र लाभार्थियों को लड़की योजना का लाभ मिले यह सुनिश्चित करने के लिए सरकार द्वारा विस्तृत दिशानिर्देश प्रदान किए जाएंगे। लड़की योजना का उद्देश्य महाराष्ट्र में आर्थिक रूप से वंचित लड़कियों को जन्म से ही शिक्षा के माध्यम से समर्थन देना, सामाजिक पूर्वाग्रहों से लड़ना और उनके सामाजिक और आर्थिक विकास को बढ़ावा देना है। वित्तीय सहायता प्रदान करके और शिक्षा को बढ़ावा देकर, यह योजना लड़कियों को सशक्त बनाने, मृत्यु दर को कम करने, बाल विवाह को रोकने और कुपोषण और स्कूल छोड़ने की दर जैसे मुद्दों का समाधान करने, समग्र विकास और आत्मनिर्भरता सुनिश्चित करने का प्रयास करती है।

 

FAQ’s:-

Q.1 लेक लड़की योजना क्या है?
उत्तर: लेक लड़की योजना महाराष्ट्र सरकार द्वारा शुरू की गई एक योजना है जो गरीब परिवारों की लड़कियों को उनकी शिक्षा के लिए आर्थिक सहायता प्रदान करती है।

 

Q.2 योजना के लिए पात्रता में क्या शामिल है?
उत्तर: महाराष्ट्र राज्य के निवासी और पीले और नारंगी राशन कार्ड धारक परिवारों की बेटियां इस योजना के लिए पात्र हैं।

 

Q.3 योजना की वित्तीय सहायता कैसे मिलेगी?
उत्तर: शिक्षा के विभिन्न चरणों में आर्थिक सहायता के रूप में राशि सीधे लाभार्थी के खाते में जमा की जाएगी।

 

Q.4  क्या योजना का लाभ सिर्फ एक ही बेटी के लिए है?
उत्तर: नहीं, अगर एक परिवार में एक से अधिक बेटियां हैं, तो सभी बेटियों को योजना का लाभ मिलेगा।

 

Q.5 योजना का लाभ किस कारण दिया जाता है?
उत्तर: लेक लड़की योजना के माध्यम से, लड़कियों के जन्म को प्रोत्साहित करते हुए और उनकी शिक्षा को सुनिश्चित करने का प्रयास किया जाता है।

 

Q.6  योजना का लाभ कितने चरणों में बाँटा जाता है?
उत्तर: योजना के तहत बालिकाओं को 5 चरणों में कुल 98,000 रुपये की वित्तीय सहायता प्रदान की जाती है।

 

Q.7 आवेदन प्रक्रिया क्या है?
उत्तर: ऑनलाइन आवेदन करने के लिए महाराष्ट्र लेक लड़की योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाएं और आवश्यक जानकारी और दस्तावेज अपलोड करें।

 

Q.8 क्या योजना के तहत स्कूली शिक्षा के लिए भी सहायता दी जाती है?
उत्तर: हां, योजना के अंतर्गत स्कूली शिक्षा के लिए भी वित्तीय सहायता प्रदान की जाती है।

 

Q.9 योजना का लाभ कितने वर्षों तक मिलता है?
उत्तर: योजना के तहत बालिकाओं को उनकी शिक्षा के पूर्ण होने तक आर्थिक सहायता प्रदान की जाती है।

 

Q.10 योजना के लाभार्थी की आय की सीमा क्या है?
उत्तर: योजना के लाभ पाने के लिए आवेदक के परिवार की वार्षिक आय 1 लाख से अधिक नहीं होनी चाहिए।

 

 

 यह भी पढ़ें:-

Leave a Comment

Table of Contents

Index